शकुन शास्त्र – 3 : सबकुछ पूर्व नियोजित और सुनिश्चित है

शकुनों में हमें असम्भावना इसलिए प्रतीत होती है कि हम परिणामों को निश्चित नहीं मानते. फ्रांस के किसी वैज्ञानिक ने एक समुद्रीय पौधे को बाहर स्थल पर लगाया और उस पर पड़ने वाले सूक्ष्म प्रभाव का गणित करता गया. सूर्य-ताप का क्रम तथा देशों की स्थिति आदि का हिसाब करके … Continue reading शकुन शास्त्र – 3 : सबकुछ पूर्व नियोजित और सुनिश्चित है