Menu

Category: May 2019

रोटी का जादू

स्वामी ध्यान विनय से मिलने से पहले हमारी कोर्टशिप के दौरान यानी जब हम ई मेल ईमेल खेल रहे थे या फोन फोन खेल रहे थे, तब मैं उनसे अक्सर एक सवाल पूछा करती थी, कि आप काम क्या करते हो? तब उन्होंने कहा था चार सुबह और चार शाम की मिलाकर आठ रोटी का […]

Read More

MITTI COOL : घर में लाएं मिट्टी के फ्रिज और बीमारियों को करें विदा

पुराने ज़माने से हम मृदा अर्थात मिट्टी के सुराही, घड़ा, कुल्हड़, आदि देखते आ रहे हैं। अब तो बहुत अधिक प्रचलन में शायद नहीं है जब से आधुनिक फ्रिज वगैरह का आविष्कार हुआ है, और यदि प्रचलन में है भी तो या तो गाँवों में या फिर शहरों में फैशन के तौर पर। इसके अपने […]

Read More

प्रकृति स्वयं बैठ चुकी है ड्राइविंग सीट पर

कभी कभी, प्रायः10-15 वर्षों में एक बार, ऐसा होता है कि अरब सागर की आर्द्र हवाएं अरावली के पश्चिम से होकर निकलती हैं। तब ये कराची के ऊपर से होती हुई उत्तर पूर्व की तरफ बढ़ती है और थार के रेगिस्तान में बरसात करते हुए कराची, सक्खर, मुल्तान की तरफ कूच करती हैं। इस बार […]

Read More

गोमय साबुन और शैम्पू : स्वदेशी वस्तु के उपयोग और स्वस्थ जीवन की ओर बढ़ाएं कदम

कहते हैं जब आप में शिष्यत्व भाव प्रबल हो जाता है तो गुरु अपने आप प्रकट होने लगते हैं. मेरी आध्यात्मिक यात्रा में कई गुरुओं का आशीर्वाद व मार्ग दर्शन मुझे प्राप्त हुआ है. ऐसे ही वैद्य राजेश कपूर के दर्शन भी अस्तित्व की योजना अनुसार जादुई रूप से प्राप्त हुए. वैसे तो दीक्षा लेने […]

Read More

Herbowood : चाय पर चर्चा ही नहीं, होता है रोज़गार भी

घूमने निकलते हैं तो विदेशियों से बात करना अच्छा लगता है और बातचीत का विषय उनका खान पान और उनकी रुचियों को लेकर ही होता है। इसी तरह से करीब 3 वर्ष पहले जापानियों से बातचीत हुई तो पता चला कि वे दिन में 15 से 20 कप चाय पीते हैं। पर वे दूध वाली […]

Read More

पीजिये हल्दीघाटी की पुण्यभूमि पर उपजे चैत्री गुलाब से बना शरबत

हल्दीघाटी की पुण्यभूमि पर उपजे चैत्री गुलाब से बना “वीरधरा” “मधुवारी ” (शर्बत) अब आप लोगो तक पहुंचने के लिए सज्ज है ! यह सुनहरे एवं गहरे गुलाबी वर्ण (रंग) में उपलब्ध है , दोनों का मूल्य एक ही है किंतु उत्पादक एवं मेरा यही मत है कि कृत्रिम रंग से प्राकृतिक सुनहरा ही श्रेष्यकर […]

Read More

हाथ से बने सूती सैनेटरी पैड्स : लघु उद्योग का नया सफ़र आप सब के संग

मेरे लिए इससे अधिक प्रसन्नता का विषय नहीं हो सकता कि मेकिंग इंडिया साप्ताहिकी के ‘स्वरोज़गार अंक’ ने कुछ महिलाओं को स्वरोज़गार के लिए प्रेरित किया है. और वे मेरे साथ मिलकर एक ऐसा लघु उद्योग प्रारम्भ करना चाहती हैं, जिसमें शुरुआत में पैसा कम लगे, और एक बार उद्योग चल निकलने पर ही पैसा […]

Read More

ग्रामीण महिलाओं में माहवारी और स्वच्छता के प्रति जागरूकता का एक सार्थक प्रयास

नारीवादी स्त्रियों ने सोशल मीडिया पर पीरियड को लेकर तमाशा बनाया हुआ हैं। लेकिन उन्होंने क्या कभी महिलाओं को मासिक धर्म स्वच्छ्ता पर किसी को जागरूक किया है? शायद नहीं। टीवी से लेकर सोशल मीडिया तक पर माहवारी के समय पैड उपयोग करने की बाढ़ आ गयी हैं। लेकिन उस पैड को उपयोग करने के […]

Read More

पुनीत उपमन्यु का पुनीत कार्य : Garden On Concrete, एक कदम हरियाली की ओर

अपने प्रियजनों को टूटे हुए फूलों के गुलदस्ते देने से बेहतर है कि एक ज़िंदा पौधा उपहार में दें Learn the art of gardening at GreenShala Garden On Concrete, एक कदम हरियाली की ओर दोस्तों, मैं समाज के लिए निःस्वार्थ कार्य करता आ रहा जिसको मैं दर्शाना उचित नहीं समझता. पर अमेरा एक मुख्य उद्देश्य […]

Read More

Start Up Stand Up : सोशल मीडिया पर स्वरोजगार से स्वावलंबी बनी स्त्रियाँ

मेकिंग इंडिया साप्ताहिकी मेरे लिए एक प्रयोगशाला है, जिसके माध्यम से मैं अपने अन्दर छुपी रचनात्मकता को हर बार नए रूप में प्रकट करती हूँ. कभी कुछ अच्छा बन जाता है, कभी बिगड़ भी जाता है, लेकिन मेरे लिए यह बिगड़ा हुआ रूप एक सबक होता है अगली बार और अधिक बेहतर करने के लिए. […]

Read More
error: Content is protected !!