लोगों से बाद में, शहर और उसकी हर चीज़ से पहले प्यार करिए…

जिस उम्र में मेरे साथ की लड़कियां जान लेती थीं कि उन्हें पढ़ लिखकर क्या बनना है… उनका राजकुमार कुमार कैसा होगा… उस उम्र में मुझे इतना पता था कि पढ़ाई कोई भी करूँ मेरा ठिकाना कोई पहाड़ी शहर होगा… जहां ख़ूब सारी किताबें होंगी और सामने खिड़की पर खुलते पहाड़ होंगे… पिछले एक साल … Continue reading लोगों से बाद में, शहर और उसकी हर चीज़ से पहले प्यार करिए…