Menu

Tag: Travelogue

यात्रा : झुमका गिरा रे, बरेली के बाज़ार में

शायद ही कोई होगा जिसने यह गाना नहीं सुना होगा, लेकिन आपने कभी यह जानने की कोशिश की है कि आखिर झुमका बरेली में ही क्यों गिरा, जबकि दिल्ली का मीना बाज़ार अधिक प्रसिद्ध है, और मुम्बई की भीड़ देखो सबसे ज़्यादा धक्का मुक्की वहीं होती है तो सबसे ज़्यादा चांस झुमके के गिरने के […]

Read More

यात्रा : अहिल्या की नगरी इंदौर

शहरों में एक शहर सुना है, शहर सुना है दिल्ली, दिल्ली शहर में चांदनी नाम की लड़की मुझसे मिल ली… अब आप सोच रहे होंगे इंदौर शहर की बात शुरू करने के लिए मैं दिल्ली पर गाना क्यों गा रही हूँ क्योंकि जब भी मैं इंदौर जाती हूँ तो मैं खुद चांदनी जैसा अनुभव करने […]

Read More

यात्रा : पाटलिग्राम, पाटलिपुत्र, पुष्पपुर, कुसुमपुर, अज़ीमाबाद से पटना तक की कहानी

आप सबने जूही की फिल्म हम है राही प्यार के फिल्म का यह गाना तो सुना ही होगा… बंबई से गयी पूना, पूना से गयी दिल्ली, दिल्ली से गयी पटना, फिर भी न मिला सजना…. तो जानेमन ऐसा है आपको पटना में यदि सजना नहीं भी मिलता है तो बिलकुल ग़म न करियेगा क्योंकि पटना […]

Read More

जापान लव इन टोक्यो : ओनसेन में डुबकी लगाने के बाद हुआ जैसे पुनर्जन्म

किनोसाकी में जब हम युकाता और लकड़ी की सैंडल “गेता” पहनकर घूमने निकले तो एक बार लगा कि पूरा शहर ही रयोकान का कॉरिडोर है. दोनों तरफ पारंपरिक दुकाने, सड़क पर हर व्यक्ति – पुरुष, महिला, और बच्चे – युकाता, किमोनो (पारंपरिक परिधान जिन्हें महिलाएं विशेष अवसरों पर पहनती हैं) और गेता में मिले. गेता […]

Read More

जापान, लव इन टोक्यो : KAISEKI आध्यात्मिक अनुभव जैसा भोजन

कावागुची-को से हम अपने बहुप्रतीक्षित गंतव्य, किनोसाकी, की तरफ चल दिए. टोक्यो पहुंचकर बुलेट ट्रेन से क्योटो जाना था और वहां से किनोसाकी के लिए ट्रेन बदलनी थी. उत्सुकतावश बुलेट ट्रेन के इंजन तक घूमने चले गए. ड्राइवर ने हमें देखा और सर झुकाकर हमारा अभिवादन किया. फिर हम अपने कोच में बैठ गए. कुछ […]

Read More

जापान लव इन टोक्यो : हिंदुस्तानी दिल का जापान भ्रमण

मार्च 2015 की एक रात 9 बजे प्लेन टोक्यो के नरिटा एयरपोर्ट पे लैंड किया. 20 मिनट में इम्मीग्रेशन, बैगेज और कस्टम्स से बाहर. इम्मीग्रेशन अफसर ने वीज़ा पे एक मोहर लगाई और एक बड़ा सा स्टैम्प चिपकाया. थोड़ा आश्चर्य हुआ क्योंकि विकसित देशों में सिर्फ आगमन की मोहर लगाई जाती है. टोक्यो के लिए […]

Read More

दुबई का ‘ग्लोबल विलेज’ : दुनिया का सबसे बड़ा और अनूठा सांस्कृतिक केंद्र

जब भी मैं दुबई आता तो यहाँ के विश्वविख्यात ‘ग्लोबल विलेज’ यानी ‘विश्व ग्राम’ को देखना किसी कारण से संभव नहीं हो पाता था। इस बार समय निकाल कर इस भव्य, दर्शनीय, नयनाभिराम और अद्भुत विश्व-ग्राम को देखने का अवसर मिला। इस विलेज में भारत समेत 27 देशों के पैवेलियन/मंडप हैं, जिनमें इन देशों की […]

Read More

Sandakphu Trek : तपस्वियों सी हैं अटल ये पर्वतों की चोटियाँ

“तपस्वियों सी हैं अटल ये पवर्तों की चोटियाँ ये बर्फ़ की घुमरदार घेरदार घाटियाँ ध्वजा से ये खड़े हुए हैं वृक्ष देवदार के गलीचे ये गुलाब के, बगीचे ये बहार के ये किस कवि की कल्पना का चमत्कार है ये कौन चित्रकार है, ये कौन चित्रकार !! ” प्रकृति, हम जीवधारियों के लिए ऑक्सीजन का […]

Read More
error: Content is protected !!