Menu

Tag: LGBT

LGBT : अप्राकृतिक चलन को रोकने का एक ही रास्ता बचता है,’संस्कार’

वामपंथ का एक और रिक्रूटमेंट काउंटर भर खुला है समलैंगिकता पर कोर्ट के निर्णय के साथ ही लोगबाग जाग गए. हमने प्रतिक्रियाएँ देनी शुरू कर दीं क्योंकि हम किस बात पर प्रतिक्रिया देंगे यह हमेशा दूसरे खेमे से तय किया जाता है. एक सामान्य प्रतिक्रिया है कि लोगों को पप्पू याद आएगा ही आएगा. कुछ […]

Read More

बस एक दिन तुम लौट आना अपनी देह में…

हर देवता में कुछ मानवीय गुण होते हैं और हर मानव में कुछ असुर तत्व, इससे हम उसे देवता या मानव होने से पदच्युत नहीं कर सकते। वैसे ही किसी पुरुष में स्त्री तत्व प्रबल हो जाता है, तो कभी किसी स्त्री में पुरुष तत्व प्रबल हो जाता है, तो हम उसे उसके पुरुष या […]

Read More