Menu

Tag: Education

रास्ते कभी बंद नहीं होते

मां बाप को बच्चों से ज़्यादा से ज़्यादा चाहिए, वो सब भी जो खुद कभी नहीं कर पाये। उम्मीद का पूरा टोकरा सिर पर लिए घूमते हैं आज के बच्चे। और इस बोझ को ढोने के चक्कर में बचपन, खिलंदड़पना, मस्ती, शोखियाँ, शरारत, चुलबुलापन, शौक, हंसी मज़ाक सब गायब सा हो जाता है ज़िंदगी से। […]

Read More

हम तो ऐसे हैं भैया

ज्ञान और शिक्षा में अंतर उतना ही है जैसे आत्मा और शरीर में है. आत्मा अपने पूर्व जन्मों से कुछ ज्ञान लेकर आती है जैसे एक बना बनाया घर हो और जन्म के बाद शिक्षा का अर्थ कुछ यूं है जैसे उस घर को सुन्दर बनाने के लिए सजावट का सामान. तो आपसे मिलते ही […]

Read More

जीवन को जो दिशा दे, ऐसा शिक्षक आना चाहिए हर छात्र के जीवन में

रात के डेढ़ बजे हों… मैं होऊं… मेरी साइकिल हो… दस-बारह फ़ीट चौड़ी सड़क हो… आगे-पीछे से कोई आता जाता न हो… मैं चलते-चलते ही ऊँघकर सो जाऊं… आगे बढ़ते हुए सो न भी पाऊँ तो कम से कम इस असम्भव सी कल्पना में खो जाऊं… मेरी कल्पना में 2007 की वो फ़िल्म ‘तारे जमीं […]

Read More