Menu

Tag: Acharya Rajesh Kapoor

केले के पत्तों से पाएं स्वस्थ शरीर, घने बाल, सुन्दर त्वचा और बीमारियों से मुक्ति

जब से वैद्य राजेश कपूर का आशीर्वाद मिला है, मैं अधिक से अधिक प्रकृति के समीप रहने लगी हूँ, और उसके संकेतों के प्रति ग्रहणशीलता बढ़ी हुई सी अनुभव हो रही है। अब जब घर के बाहर निकलती हूँ तो नज़रें किसी न किसी उपयोगी वृक्ष और गायों के झुण्ड पर लगी रहती है। ऐसे […]

Read More

डाई से बाल ख़राब करना छोड़िये, घर पर बनाइये मेहंदी से प्राकृतिक डाई

श्रृंगार की बात हो और बालों का ज़िक्र न हो ऐसा हो ही नहीं सकता. लेकिन बढ़ते प्रदूषण, अस्त व्यस्त खान-पान और दिनचर्या के चलते बालों की गुणवत्ता धीरे धीरे ख़त्म होती जा रही है. सब जगह एक ही समस्या है, बालों में रूसी, समय से पहले सफ़ेद हो जाना और बालों का झड़ना. आज […]

Read More

पंचगव्य और आयुर्वेद के ज्ञाता ऋषि तुल्य वैद्य राजेश कपूर से मुलाक़ात

“अब तो चाय बिना शक्कर और बिना दूध वाली पीता हूँ”, मेरे इस कथन पर लोगों की अब तक प्रशंसात्मक या विस्मयपूर्ण प्रतिक्रियाएं ही मिली हैं. पर वो गुरु ही क्या जो चोट न करे! उन्होंने छूटते ही कहा कि इस पेय में चाय पत्ती तो है… नहीं पीना चाहिए. मेरे प्रतिवाद पर उन्होंने दो […]

Read More

वैद्य राजेश कपूर से जानिये किस दिन क्या खाना और करना वर्जित है

आचार्य राजेश कपूर से जानिये पंद्रह दिन के चौदह नियम – 1. प्रतिपदा – कूष्मांड पेठा और कद्दू खाना वर्जित है.2. दूज – बृहती (छोटा बैंगन) खाना वर्जित है.3. तृतीया – परवल खाने से शत्रु वृद्धि होती है.4. चतुर्थी- मूली खाने से धन का नाश होता है.5. पंचमी – बेल खाना वर्जित है – कलंक […]

Read More

आचार्य राजेश कपूर : क्या है संकल्प शक्ति का जादू?

द सीक्रेट नाम की एक पुस्तक है। द सीक्रेट नाम की एक वीडियो / फिल्म भी है। उस में बताया गया है कि हम अपनी संकल्प शक्ति को कैसे बलवान बनाकर, अपनी लौकिक इच्छाओं को पूरा कर सकते हैं। संकल्प शक्ति के चमत्कारी प्रयोगों के बारे में सिखाने वाले अनेक पश्चिमी विद्वान हैं जो भारी […]

Read More

सहजन : सब जन की समस्या का निदान देता एक जादुई वृक्ष

यूं तो इसे मुनगा कहते हैं लेकिन मुझे इसका सहजन नाम अधिक पसंद है. इसका संधि विच्छेद करें तो होता है सह+जन, यानी जो सब जन के साथ है. कहते हैं मृत शरीर को जीवित करने के अलावा यह सारे रोगों को दूर कर सकती है. एक फली जो फलने फूलने से पहले ही अपनी […]

Read More

मानो या न मानो : सिर्फ़ सोचने भर से सब हो जाता है

Pareidolia का अर्थ खोजने जाएंगे तो वो कहेंगे Pareidolia is a psychological phenomenon in which the mind responds to a stimulus, usually an image or a sound, by perceiving a familiar pattern where none exists. उनके हिसाब से ऐसी कोई वस्तु वास्तविक रूप से नहीं होती बस यह आँखों का भ्रम या आप इसे Illusion […]

Read More
error: Content is protected !!