मानो या ना मानो : जब ‘शैफाली’ के लिए ओशो ने उठा लिया था चाकू!

25 अप्रेल 2010 की बात है … मैं सुबह सुबह ध्यान करने के बाद बब्बा (ओशो) और एमी माँ (अमृता प्रीतम) के बारे में अपनी डायरी में लिख रही थी … Continue reading मानो या ना मानो : जब ‘शैफाली’ के लिए ओशो ने उठा लिया था चाकू!