मेकिंग इंडिया साप्ताहिकी

जीवन के सप्त रंग, मेकिंग इंडिया के संग

चरित्रहीन – 1 : प्रेम, पीड़ा, प्रतीक्षा, परमात्मा

उसे कई बार ऐसा लगता है जैसे वह इस जन्म में जिस किसी से भी मिल रही है, वह पिछले किसी न किसी जन्म का कोई रिश्ता है… यूं तो

Read More

चरित्रहीन -2 : मैं ईश्वर की प्रयोगशाला हूँ

(उसके लिए भविष्यवाणी हुई है कि यह उसका अंतिम जन्म है… और इस जन्म में उसे पिछले सारे जन्मों के हिसाब पूरे करना है, चाहे वह हिसाब प्रेम का हो,

Read More

चरित्रहीन – 3 : तुम्हारा प्रेम बीज है, मेरा प्रेम सुवास

पश्चिम की एक बहुत प्रसिद्ध अभिनेत्री मर्लिन मनरो ने आत्महत्या की, भरी जवानी में! और कारण? कितने प्रेमी उसे उपलब्ध थे! ऐरे-गैरे-नत्थू-खैरों से लेकर अमरीका का राष्ट्रपति कैनेडी तक, सब

Read More

चरित्रहीन – 4 : उड़ियो पंख पसार

और फिर एक दिन… स्वामी ध्यान विनय मुझसे पूछने लगे base camp का अर्थ जानती हो? मैंने कहा आप पूछ रहे हैं तो ज़रूर कोई और ही अर्थ बताने वाले

Read More

जिसका कोई नहीं है उसके ‘गणपति बप्पा’ हैं

गणेश चतुर्थी के त्यौहार को समग्र राष्ट्र हर्सोल्लास के साथ मना रहा है। सारे महाराष्ट्र में इस त्यौहार को मानने के लिये “गणेश मंडल” बने हुये हैं जो उत्सव से

Read More

ईश्वर के दूत : साहित्यकार आबिद सुरती और आईटी प्रोफेशनल विमल चेरांगट्टू

वे मेरी नज़र में ईश्वर के दूत हैं, जो मानव सेवा के लिए किसी मदद की प्रतीक्षा नहीं करते, ना ही ईश्वर की कृपा बरसने की राह देखते हैं, जिन्हें

Read More
error: Content is protected !!