जापान, लव इन टोक्यो : KAISEKI आध्यात्मिक अनुभव जैसा भोजन

कावागुची-को से हम अपने बहुप्रतीक्षित गंतव्य, किनोसाकी, की तरफ चल दिए. टोक्यो पहुंचकर बुलेट ट्रेन से क्योटो जाना था और…

Continue Reading →

ये जो रुख़सार पे तिल सजा रखा है, दौलत-ए-हुस्न पे कातिल बैठा रखा है

मित्रों, सुई की नोक जितना छोटा तिल भी रुख़सार में कशिश डाल देता है। यह बात बताती है कि हमारा…

Continue Reading →

मनमोहना… कान्हा सुनो ना…

प्रेम, प्रतीक्षा, प्रारब्ध और पीड़ा यात्रा है… और मिलन एक चमत्कार जो सिर्फ चयनित लोगों के लिए सुरक्षित स्थान है……

Continue Reading →