मेकिंग इंडिया साप्ताहिकी

जीवन के सप्त रंग, मेकिंग इंडिया के संग

फेसबुक अड्डा : कविताएं गाती तस्वीरें

कुछ कविताएं ज़हन की उन तस्वीरों पर बनती हैं जो हमारे नितांत एकाकीपन की साथी होती हैं, जिनका आपके अपने सिवा कोई राज़दार नहीं होता. कुछ कविताएं उन तस्वीरों पर

Read More

एक कवि और उनकी कविताएं : दुष्यन्त कुमार

कुण्ठा मेरी कुण्ठा रेशम के कीड़ों सी ताने-बाने बुनती, तड़प तड़पकर बाहर आने को सिर धुनती, स्वर से शब्दों से भावों से औ’ वीणा से कहती-सुनती, गर्भवती है मेरी कुण्ठा

Read More

कविताएं कुछ प्रेम पगी

उसके लिए भी, जिसका चेहरा स्मृति में धुंधला हो गया है, पर उसका राशिफल आज भी पढ़ता हूँ, और उसके लिए भी जो आभासी संसार मे रहती है, पर लगता

Read More

गौरा गाय : आह मेरा गोपालक देश

गाय के नेत्रों में हिरन के नेत्रों-जैसा विस्मय न होकर आत्मीय विश्वास रहता है। उस पशु को मनुष्य से यातना ही नहीं, निर्मम मृत्यु तक प्राप्त होती है, परंतु उसकी

Read More

अपने जीवन का तो एक ही फंडा है जानम, हंसिबा खेलिबा धरिबा ध्यानं

जब संयम साधो तो साधते चले जाओ जब संसार साधो साधते चले जाओ यह मत देखो क्या साधा जा रहा है, देखो यह कि क्या तुम्हें साधना आ रहा है…

Read More

अपने जीवन का तो एक ही फंडा है जानम, हंसिबा खेलिबा धरिबा ध्यानं

अपने जीवन का तो एक ही फंडा है जानम, हंसिबा खेलिबा धरिबा ध्यानं कहते हैं न एक साधे सब सधे… इसलिए आप जब संन्यास को साध लेते हैं तो आपकी

Read More

मोक्ष

मध्यम वर्ग की औरतें हमेशा मध्यम मार्गी होती हैं, इसका सबसे सही उदाहरण देखना हो तो सड़क पर किसी महिला को गाड़ी चलाते हुए देखिये. वो कभी भी दायें या

Read More

मणिकर्णिका

आज कंगना राणावत की बहु चर्चित फिल्म मणिकर्णिका देखी। यद्यपि आजकल ज्यादा फ़िल्में नहीं देखती हूँ, किन्तु अव्वल तो इस फिल्म के नाम ने ध्यान आकर्षित किया था, दूजा, हाल

Read More

तरानों से झांकते प्रेमप्रश्न

तरानों का संसार प्रेमियों का प्रकाश-लोक है. एक ऐसा लोक, जहाँ उनके सभी प्रश्नों के काव्यात्मक उत्तर रहते हैं. मसलन, प्रेमिका को पूछना हो कि जब हमारा साहचर्य नहीं होता

Read More

स्वामी रामानंद, कबीर और वामपंथी षडयंत्र

हमने जब इतिहास पढ़ना शुरू किया तो भक्ति काल और धार्मिक आंदोलन की भूमिका में यदा-कदा स्वामी रामानंद के बारे में एक-आध पंक्तियां पढीं । जहां तक मेरी स्मृति साथ

Read More
error: Content is protected !!